मित्रों जैसा कि आप सभी को पता होगा , Agnipath Scheme recruitment 2022 के आने के बाद लगातार विरोध प्रदर्शन होते आ रहे हैं , सेना की भर्ती की तैयारी कर रहे युवा और अन्य अपॉजिट पार्टियां लगातार Agnipath Scheme 2022  का विरोध करती नजर आ रही हैं लेकिन सेना ने स्पष्ट कर दिया कि Agnipath tour of duty scheme 2022  लागू होकर रहेगी क्योंकि अग्नीपथ स्कीम युवाओं के भविष्य निर्माण के लिए है।  अग्नीपथ को लेकर हर युवा के मन में अलग-अलग सवाल चल रहे हैं, कोई कहता है कि अग्नीपथ बिल्कुल सही है तो कोई कहता है अग्नीपथ स्कीम युवाओं को गर्त में ले जाएगी। अब जो भी हो, हम आपको जो भी स्थिति है आगे इस आर्टिकल के माध्यम से स्पष्ट करने जा रहे हैं , अगर आपके मन में भी कुछ सवाल जवाब हैं तो हमें संपर्क कीजिए , आज के आर्टिकल में आप जानेंगे Agnipath Scheme 2022 , tour of duty rules 2022 , Agnipath Scheme 2022 Overview , इसके साथ ही साथ हम आपको FAQs about Agnipath Scheme 2022 के बारे में विस्तार से बताने वाले हैं। इसलिए हमारे आर्टिकल Agnipath Scheme Recruitment 2022 को लास्ट तक अवश्य पढ़िए। हम नहीं जानते कि आपसे कोई जानकारी छूट जाए।

Agnipath Scheme Recruitment 2022

 जब से हमारे देश के सम्मानीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने Agnipath Scheme recruitment 2022  का ऐलान किया है तभी से दिल्ली से लेकर बिहार तक युवा सड़कों पर उतर कर Agnipath Scheme recruitment का विरोध कर रहे हैं , हालांकि ये युवा नहीं जानते कि क्या सही है क्या गलत है , बस कुछ विरोधी पार्टियों के बहकावे में आकर यह युवा Agnipath Scheme recruitment का विरोध  प्रदर्शन कर रहे हैं हालांकि सेना ने भी साफ कर दिया है कि जो भी युवा Agnipath Scheme recruitment के विरोध प्रदर्शन के अंतर्गत किसी भी क्राइम में लिप्त होगा उसे कभी भी सेना में शामिल नहीं किया जाएगा। बिहार में प्रदर्शनकारियों ने इतना उग्र प्रदर्शन किया कि उन्होंने एक ट्रेन में आग लगा दी। बिहार में आरा स्टेशन पर पथराव होने के कारण पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े । पानी की तीव्र बौछार करनी पड़ी। उत्तराखंड और हरियाणा में भी युवाओं ने सड़कों पर जाम लगा दिया।

Agneepath Bharti 2022 Overview 

Article title Agnipath Scheme Recruitment 2022
Objective FAQs
Year 2022
Scheme Agnipath (Agniveer) Recruitment 
Launch by  Central government
Agniveer service duration 4 years
Official website www.mod.gov.in 

Agnipath Scheme Recruitment 2022
Agnipath Scheme Recruitment 2022

Agneepath tour of duty 2022 

 दरअसल युवा इस Agnipath Scheme recruitment 2022 को किसान कानून की तरह वापस लेने की मांग कर रहे थे, क्योंकि युवाओं को यह आशंका है की सेना से रिटायर होने के बाद युवाओं के क्षमता पर नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा । युवाओं के मन में लगातार ऐसे सवाल उठ रहे हैं ,की युवा पथभ्रष्ट हो गए हैं उन्हें नहीं पता कि Agnipath tour of duty 2022 सही है या गलत है। युवा सरकारी संपत्ति को हानि पहुंचा रहे हैं हालांकि यह बहुत गलत है क्योंकि सरकारी संपत्ति को हानि पहुंचाना बड़ा दंडनीय अपराध होता है, सीएम योगी आदित्यनाथ ने ऐसे युवाओं के लिए स्पष्ट कर दिया है इन युवाओं जो सरकारी संपत्ति को हानि पहुंचा रहे हैं , को कभी भी सेना में शामिल नहीं किया जाएगा। सोशल मीडिया के जरिए युवा लगातार अपने सवालों को पूछ रहे हैं, तो सेना के अधिकारियों ने कुछ ऐसे ही Agnipath Scheme recruitment 2022 संबंधी सवालों का जवाब दिया है, जिसे पढ़कर युवा अपने सही मार्ग पर आ जाएंगे।

FAQs related Agnipath Scheme 2022

 प्रश्न 1  अग्निवीर 4 वर्ष बाद सेना से रिटायर हो जाएंगे उसके बाद उनका क्या होगा कहीं बे गलत रास्ता तो नहीं अपना लेंगे?

 उत्तर जैसा कि अग्नीपथ नोटिफिकेशन में उल्लिखित है, कि 4 साल बाद 25 फीसदी को सेना में रेगुलर कर लिया जाएगा जबकि 75 फ़ीसदी को सेना से रिटायर कर दिया जाएगा। लेकिन गृह मंत्रालय ने यह भी साफ किया है कि उन्हें पुलिस बलों में प्राथमिकता दी जाएगी यूपी उत्तराखंड और हरियाणा सरकार ने भी राज्य पुलिस में प्राथमिकता देने की बात कही है और अग्निवीरों के पास 4 वर्ष पश्चात लगभग 1200000 रुपए का बैंक बैलेंस भी होगा (उनकी प्रति महीने की सैलरी के अलावा,)  इस बैंक बैलेंस का इस्तेमाल अग्निवीर अपने आगे भविष्य निर्माण में कर सकते हैं, सुनने में तो ऐसा भी आया है की अग्निवीरों को हर क्षेत्र में प्राथमिकता दी जाएगी।

प्रश्न 2 अग्नीपथ स्कीम के तहत अग्नि वीरों की भर्ती कब से शुरू हो रही है? और कितनी कितनी वैकेंसी आएंगी?

उत्तर इंडियन आर्मी की भर्ती रैली 90 दिनों में हो जाएगी और तकरीबन 180 दिन बाद अग्निवीर रिक्रूटमेंट सेंटर में पहुंच जाएंगे और 1 साल बाद अग्निवीर भारतीय सेना में अपनी सेवा देने लगेंगे। पहले वर्ष आर्मी में 40000 सैनिकों की भर्ती होगी।  3000 नेवी सैनिकों की तथा 3500 एयर फोर्स भर्तियां होंगी।

प्रश्न 3 सन 2019 में आर्मी भर्ती का नोटिफिकेशन जारी हुआ था जिसमें 20 वर्ष की सर्विस थी लिखित फिजिकल मेडिकल सब हो गया था , अब इस भर्ती का क्या होगा?

उत्तर सन 2019 वाली भर्ती अब आगे नहीं बढ़ेगी, आगे से समस्त भर्तियां अग्निपथ के तहत ही होंगी और प्रत्येक 90 दिन अर्थात 3 महीने में रिक्रूटमेंट रैली हुआ करेगी। और सभी उम्मीदवारों को अग्निपथ के तहत ही अप्लाई करना पड़ेगा।

प्रश्न 4 अगर 10वीं या 12वीं पास अग्निवीर बन जाएंगे, अगर कोई उम्मीदवार आगे पढ़ने का इच्छुक हो तो क्या होगा।?

उत्तर सेना ने इन सभी बातों को दृष्टि में रखते हुए व्यवस्था की है। अर्थात 4 वर्ष सेना में सेवा देते हुए उम्मीदवारों को स्किल ट्रेनिंग दी जाएगी। शिक्षा मंत्रालय ने स्पष्ट किया है, कि अग्निवीरों के लिए 3 वर्ष का स्किल ट्रेंनिंग ग्रेजुएशन कोर्स कराया जाएगा। यह कोर्स इग्नू करवाएगा। ऐसा उल्लिखित है, की अग्निवीरो को प्रथम वर्ष  ग्रेजुएशन सर्टिफिकेट दूसरे वर्ष में ग्रेजुएशन डिप्लोमा और इसी प्रकार तीसरे वर्ष में ग्रेजुएशन डिग्री प्राप्त होगी।

प्रश्न 5 युवाओं के मन में एक सवाल आ रहा है, की सेना में अग्निवीर प्रतिवर्ष भर्ती होंगे, तो क्या एक समय ऐसा नहीं आएगा जब सेना में अग्निवीर ज्यादा और परमानेंट सैनिक कम हो जाएंगे, क्योंकि 25 परसेंट सैनिक अग्निवीरों को ही परमानेंट सर्विस दी जाएगी ।

उत्तर इंडियन आर्मी वाइस चीफ के अनुसार सेना में मैक्सिमम 50 फीसदी अग्निवीर ही हो सकते हैं। अगर कोई ऐसी स्थिति आती है , तो हम तैयार हैं। 

प्रश्न 6 ऐसे युवाओं का भविष्य क्या होगा जो सेना में भर्ती के लिए मेडिकल और फिजिकल टेस्ट पास कर चुके हैं ?

उत्तर सेना ने यह पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि आगे से समस्त भर्तियां अग्निपथ स्कीम के तहत ही होंगी , इस प्रकार पुराने मेडिकल या फिजिकल टेस्ट को अमान्य माना जाएगा। सेना के अनुसार जो युवा फिट है ब्रिलियंट है। वह दोबारा भी सभी एग्जाम पास कर सकता है।

प्रश्न 7 क्योंकि अग्निपथ में नौकरी अस्थाई है, सिर्फ 4 वर्ष के लिए है। तो क्या उम्मीदवार इस भर्ती के लिए उत्सुक होंगे?

उत्तर एयर फोर्स चीफ ने यह स्थिति भी स्पष्ट की है , कि वे युवाओं को एक साथ तीन बोनस दे रहे हैं, पहला अच्छी सैलरी दूसरा सिर्फ 4 साल में अच्छा बैंक बैलेंस और इसके साथ ही साथ स्किल् ट्रेनिंग और स्किल ट्रेनिंग के साथ-साथ अग्नि वीरों को क्रेडिट पॉइंट भी मिलेंगे, 

प्रश्न 8 लोगों के अनुसार अग्निपथ स्कीम का उद्देश्य सिर्फ सेना का खर्च कम करना है।

उत्तर हां, यह भी सही है की सेना के बजट का एक बड़ा हिस्सा पेंशन में व्यय होता है, अग्निवीर भर्ती के तहत यह व्यय कम हो जाएगा और इस व्यय के कम होने से जो पैसा बचेगा , वह सेना को अत्याधुनिक बनाने के काम में आएगा। हालांकि गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने यह भी स्पष्ट किया है की बचत करना उनका उद्देश्य नहीं है.

प्रश्न 9 क्या अग्निवीरों को सेना की तरह पेंशन और एक्स सर्विसमैन को मिलने वाली दूसरी प्रकार की सभी सुविधा मिलेगी?

उत्तर अग्निवीरों को ऐसा कुछ नहीं मिलेगा क्योंकि अग्निपथ स्कीम में ऐसा कुछ नहीं है, अग्नि वीरों को न तो 4 वर्ष बाद पेंशन मिलेगी और ना ही एक्स सर्विसमैन की तरह मिलने वाली बाकी अन्य सुविधाएं मिलेगी, उन्हें सिर्फ 4 वर्ष के बाद सर्विस निधि पैकेज के तहत लगभग 1200000 रुपए की एक मुश्त राशि, और स्किल्ट्रेनिंग मिलेगी। और उन्हें रिटायर होने के बाद प्राइवेट या सरकारी किसी विभाग में जॉब प्राप्त करने में प्राथमिकता प्राप्त होगी।

प्रश्न 10 अग्नीपथ स्कीम मे अग्निवीर के लिए न्यूनतम और अधिकतम आयु सीमा क्या रखी गयी है?

उत्तर अग्नीपथ स्कीम के तहत निम्नतम आयु सीमा 17.5 वर्ष तथा अधिकतम आयु सीमा 21 वर्ष मान्य की गई है, लेकिन चूंकि दो वर्ष से कोई भर्ती नहीं निकली है इसलिए अधिकतम आयु सीमा में 2 वर्ष छूट का प्रावधान दिया गया है।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.

film porno italiano xxx porno italiano