शहर के उत्कृष्ट विद्यालय मार्तण्ड क्रमांक 1 में हायर सेकेण्ड्री और हाई स्कूल की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन कार्य चल रहा है। मूल्यांकन केन्द्र में बनाई गई व्यवस्था का जायजा लेने के लिए कलेक्टर प्रतिनिधि एडीएम शैलेन्द्र सिंह और एसडीएम अनुराग तिवारी गुरुवार को पहुंचे। अलग-अलग कमरों में चल रहे उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन कार्य को संजीदगी से देखते हुए अधिकारियों ने व्यवस्थाओं का जायजा लिया। एडीएम ने गणित और अर्थशास्त्र की उत्तर पुस्तिकाओं को मूल्यांकन के दौरान देखा। उन्होंने मूल्यांकन अधिकारी सुधीर बाण्डा से वैल्यूवरों की जानकारी हासिल की। तेजी के साथ उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन करने के लिए वैल्यूवर की संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए गए है।

एडीएम ने कहा कि जो वैल्यूवर नहीं आ रहे हैं उनके बारे में उच्च अधिकारियों को अवगत कराया जाए। जिससे कार्रवाई की जा सके। इस निरीक्षण के दौरान संभागीय मूल्यांकन अधिकारी राजेन्द्र सिंह दहिमन और मूल्यांकन अधिकारी सुधीर बाण्डा मौजूद रहे। अब बढ़ रही वैल्यूवर की संख्या शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय मार्तण्ड क्रमांक 1 में हायर सेकेण्ड्री और हाई स्कूल की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन करने के लिए गुरुवार को 340 वैल्यूवर मौजूद रहे। हाई स्कूल की 3897 उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन गुरुवार को किया गया। जबकि हायर सेकेण्डी की 5569 उत्तर पुस्तिकायें जांची गई है। हाई स्कूल की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन करने के लिए 149 वैल्यूवर जबकि हायर सेकेण्ड्री के लिए 200 वैल्यूवर गुरुवार को मौजूद थे।

इतनी कॉपियों की होगी जांच :-

माध्यमिक शिक्षा मंडल की 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा में प्रदेश के 18 लाख छात्र शामिल हो रहे हैं। ऐसे में शिक्षकों को कुल 1 करोड़ कॉपियों का मूल्यांकन करना है। कॉपियों का मूल्यांकन करने के बाद ऑनलाइन माध्यम से अंक माध्यमिक शिक्षा मंडल को सौंपे जाएंगे. उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन का कार्य सुबह 9 बजे से शुरू किया जायेगा. मूल्यांकन में शामिल शिक्षक सुबह 9:30 बजे केंद्र में प्रवेश करेंगे। इसके बाद दिन भर उन्हें वहीं रहना होगा। बीच में वह बाहर नहीं आ सकते हैं। एक दिन में एक शिक्षक को कम से कम 30 और अधिकतम 45 कॉपियां जांचनी होगी। माध्यमिक शिक्षा मंडल (MPBSE) द्वारा क्लास दसवीं और बारहवीं की परीक्षाओं का मूल्यांकन कार्य 5 मार्च से शुरू किया जा रहा है. मूल्यांकन कार्य 20 दिनों के भीतर पूरा करने के निर्देश मंडल ने जारी किए हैं. ऐसा बताया जा रहा है कि समय पर परीक्षा होने के कारण इस बार जल्दी परीक्षा परिणाम भी जारी किया जाएगा।

Board exam 2022- ADM reached evaluation center
Board exam 2022- ADM reached evaluation center

उसी दिन भेजने होंगे ऑनलाइन अंक –
जबलपुर में कॉपी जांचने के लिए 1300 शिक्षकों का रजिस्ट्रेशन हुआ है. इस बार मंडल ने कॉपियों का मूल्यांकन होते ही उसी दिन विद्यार्थियों के अंक ऑनलाइन भेजने के निर्देश दिए हैं। अब तक बोर्ड परीक्षाओं के जितने प्रश्न पत्र हो चुके हैं, उन सभी के मूल्यांकन की शुरुआत होगी। मूल्यांकन कार्य 20 दिनों के भीतर पूरा करने के निर्देश मंडल ने जारी किए हैं। कोरोना की वजह से छात्रों की पढ़ाई बुरी तरह से प्रभावित हुई है. ये भी जानकारी मिली है कि पहले की तरह इस बार भी मूल्यांकन केंद्र में मोबाइल को पूरी तरह से प्रतिबंधित किया गया है. साथ ही मूल्यांकन केन्द्र पर धारा 144 लागू रहेगी।

दो दिन में जो वैल्यूवर नहीं आए तो उनके खिलाफ कार्रवाई का भेजा जाएगा प्रस्ताव:-

हाई स्कूल और हायर सैकण्डी की उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन करने के लिए जिन | वैल्यूवरों की ड्यूटी लगाई है उसमें से करीब एक सैकड़ा अभी भी अनुपस्थित बने हुए है। गुरुवार को मूल्यांकन केन्द्र का निरीक्षण करने स्कूल पहुंचे कलेक्टर प्रतिनिधि एडीएम शैलेन्द्र सिंह ने कहा कि दो दिन में जो वेल्यूदर नहीं आ रहे हैं उन पर कार्रवाई करने के लिए | प्रस्ताव उच्च अधिकारियों को भेजा जाए जिससे अविलंब कार्रवाई की जा सके। वैल्यूवर की संख्या बढ़ाने और कार्य में तेजी लाने के दिए निर्देश।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.

instagram volgers kopen volgers kopen buy windows 10 pro buy windows 11 pro

film porno italiano xxx porno italiano